श्रीकांत बोला की बायोपिक में काम करेंगे राजकुमार राव

मुंबई, (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता राजकुमार राव उद्योगपति श्रीकांत बोला की बायोपिक में काम करते नजर आयेंगे।

तुषार हीरानंदानी निर्देशित और टी-सीरीज़ और चाक एन चीज़ फिल्म्स प्रोडक्शन एलएलपी द्वारा निर्मित श्रीकांत बोला की बायोपिक में राजकुमार राव काम करते नजर आयेंगे।श्रीकांथ बोला, एक ऐसे उद्योगपति की बायोपिक है,जिन्होंने अपनी दृश्यहीनता को अपने सपनो पर हावी नहीं होने दिया और उन्होंने बोलेंट इंडस्ट्रीज नामक कंपनी की स्थापना की जिसका नेतृत्व रवि कांथ मंथा कर रहे हैं।
इस प्रेरक कहानी को सुमित पुरोहित और जगदीप सिद्धू द्वारा लिखा गया है और इस फिल्म की शूटिंग जुलाई 2022 में शुरू की जायेगी।

आंध्र प्रदेश के एक छोटे से गांव के रहने वाले श्रीकांथ बोला जन्म से ही नेत्रहीन थे।उन्हें जन्म से ही कई कठिनाईयों का सामना करना पड़ा है।
श्रीकांथ बोला ने अमेरिका के मेसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से पढाई करने वाले पहले अंतरराष्ट्रीय नेत्रहीन छात्र बनने का गौरव भी हासिल किया था।

टीसीरीज के चेरमैन भूषण कुमार ने कहा ,“श्रीकांथ बोला की कहानी मुश्किलों से लड़कर आगे बढ़ने की कहावत को पूरा करती है।
जन्म से ही उन्हें कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा, इसके बावजूद उन्होंने अपने सपनों के बीच किसी चीज को आने नहीं दिया, उनके सपनों का सफर वास्तव में बहुत ही प्रेरणादायक है।
उनके जैसे व्यक्ति के साथ जुड़ना वास्तव में एक सौभाग्य की बात है।एक ऐसे दमदार व्यक्तिववाले किरदार को सिर्फ राजकुमार राव जैसा होनहार एक्टर ही निभा सकता है और हमें खुशी है कि वे हमारे साथ हैं।”
राजकुमार राव ने कहा, “श्रीकांथ बोला प्रेरणास्त्रोत हैं।इस तरह के एक प्रेरक व्यक्तित्व की भूमिका निभाना वास्तव में मेरे लिए बहुत सौभाग्य की बात है, इतनी कठिनाइयों का सामना करने के बावजूद वह बढ़ते रहे।
मैं श्रीकांथ के किरदार को निभाने को लेकर बेहद उत्सुक हूं।इस तरह के प्रेरक प्रोजेक्ट के साथ भूषण सर के साथ एक बार फिर से काम करने को लेकर बेहद खुशी हो रही है।”

नव भारत न्यूज

Next Post

सुहास भगत फिर मुख्यधारा में आए

Fri Jan 7 , 2022
सियासत भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत हाल तक प्रदेश की राजनीति में थोड़े निष्कि्रय हो गए थे। इसका कारण यह है कि उनके कार्यकाल को 5 वर्ष पूरे हो चुके हैं। ऐसे में उन्हें प्रमोशन दिया जाना या प्रदेश से अन्यत्र भेजना तय था, लेकिन उत्तर प्रदेश के […]