जनरल विपिन रावत ने दतिया में तीन महीने पहले की थी पीताम्बरा माई की विशेष पूजा

दतिया/ग्वालियर:  देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल विपिन रावत का ग्वालियर में एक मात्र दौरा तीन महीने पहले हुआ था। 13 सितंबर की दोपहर वह सेना के विशेष विमान से ग्वालियर एयरबेस पर पहुंचे थे। यहां से उनको विमान बदलकर झांसी जाना था। वहां से लौटकर 14 सितंबर को उन्हें दतिया में पीतांबरा पीठ के दर्शन कर विशेष पूजा अर्चना करनी थी। अचानक मौसम खराब होने के कारण विमान नहीं उड़ सकता था। जिस कारण उन्होंने काफी समय ग्वालियर एयरबेस पर ही गुजारा था। साथ में उनकी पत्नी मधुलिका रावत भी थीं। इसके बाद उन्होंने सेना के अफसरों के साथ मुलाकात की और यहां उनका हौसला भी बढ़ाया।

4 सितंबर को सुबह साढ़े सात बजे जनरल बिपिन रावत, पत्नी मधुलिका रावत के साथ दतिया पीतांबरा पीठ पहुंचे थे। यहां वह करीब 7 घंटे तक रहे थे। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था के चलते किसी को भी मंदिर परिसर में जाने की इजाजत नहीं थी। पूरी व्यवस्था फौज ने अपने हाथों में ले रखी है। पहले से ही चयनित पुजारियो के दल ने उनको पूजा पाठ कराया है। यहां उन्होंने नवचंडी यज्ञ में भाग लिया था। इसके बाद दोपहर करीब 2.30 बजे वह ग्वालियर पहुंचे और यहां से सेना के विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना हो गए।

झांसी कैंट में भी किया था निरीक्षणजनरल रावत ने 13 सितंबर को ग्वालियर से मौसम साफ होने के बाद झांसी स्थित सैनिक छावनी पहुंचकर वहां व्हाइट टाइगर डिवीजन क निरीक्षण करने के साथ ही सैनिकों की दक्षता को परखा। यहां उन्होंने सेना के आला अफसरों के साथ तात्कालीक घटनाक्रम पर चर्चा की।

नव भारत न्यूज

Next Post

थीम रोड क्लीन के मंत्र के साथ प्रशासन की टीम उतरी सड़क पर, यशोधरा राजे की सख्ती के बाद कार्रवाई

Thu Dec 9 , 2021
शिवपुरी: शिवपुरी शहर में निर्माणधीन थीम रोड अभी पूरी बनी ही नही थी उससे पहले शहर के दुकानदारो ने उस पर अस्थाई अतिक्रमण कर लिया था। जिससे रोड की चौडाई कम हो गईं। यह अतिक्रमण थीम रोड के सौदर्य पर ग्रहण का काम कर रहा था। बीते रोज शिवपुरी विधायक […]