कश्मीर में हाड़ कंपा देने वाला ठंड

श्रीनगर, 3 दिसंबर (वार्ता) कश्मीर घाटी में लगातार हाड़ कंपा देने वाले ठंड की स्थिति जारी है।
शनिवार शाम बारिश और बर्फबारी हो सकती है।

मौसम विभाग ने बताया कि श्रीनगर में मौसम की सबसे ठण्डी रात रही क्योंकि यहां तापमान शुक्रवार को शून्य से 2.4 डिग्री दर्ज किया गया जो गुरुवार को शून्य से 1.8 नीचे दर्ज किया गया था।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि चार दिसंबर की शाम से छह दिसंबर की दोपहर तक एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-कश्मीर और उसके आसपास के इलाकों को सबसे ज्यादा प्रभावित कर सकती है।

उन्होंने कहा कि कश्मीर घाटी और जम्मू के ऊपरी और मध्य इलाकों में पांच दिसंबर को हल्की से मध्यम बर्फबारी और केन्द्र शासित प्रदेश के मैदानी इलाकों में बारिश होगी।

दक्षिण कश्मीर में पहलगाम के पर्यटक रिसॉर्ट कश्मीर घाटी का सबसे ठण्डा स्थान रहा।
रात तापमान में हल्का सुधार देखा गया।
यहां शुक्रवार को तापमान शून्य से 4.1 डिग्री नीचे रहा जबकि गुरुवार को तापमान शू्न्य से 4.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया था।

केन्द्र शासित प्रदेश लद्दाख में कड़ाके की ठण्ड जारी है।द्रास वायु सेना स्टेशन पर गुरुवार को तापमान शून्य से 11.8 डिग्री सेल्सियस नीचे की तुलना में शुक्रवार को 12.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया जबकि लेह का तापमान शुक्रवार को शून्य से 6.9 नीचे रहा और गुरुवार को 6.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।
वहीं कारगिल में गुरुवार को माइनस 7.9 डिग्री नीचे की तुलना में शुक्रवार को शून्य 7.1 डिग्री नीचे सेल्सियस दर्ज किया गया।

उत्तरी कश्मीर में गुलमार्ग के प्रसिद्ध स्की रिसॉर्ट में रात के तापमान में सुधार देखा गया।यहां शुक्रवार का तापमान शून्य से 1.0 डिग्री नीचे जबकि गुरुवार को 1.5 डिग्री सेल्सियस से कम दर्ज किया गया था।

काजीगुंड में घना कोहरे की परत छाने से पर्यटकों के लिए कठिनाई बनी हुई है।यहां गुरुवार को तापमान शून्य से 1.5 डिग्री की तुलना में शुक्रवार को 1.8 डिग्री सेल्सियस से कम दर्ज किया गया।
वहीं कोंकरनाग में रात का तापमान गुरुवार को शून्य से 1.4 डिग्री नीचे के मुकाबले शुक्रवार को शून्य से 2.3 डिग्री नीचे चला गया।

मौसम विभाग ने कहा कि कश्मीर जिले के कुपवाड़ा में न्यूनतम तापमान में मामूली सुधार हुआ और यह शुक्रवार को शून्य से 2.8 डिग्री नीचे रहा जबकि गुरुवार को शून्य से 3.3 डिग्री नीचे दर्ज किया गया था।

नव भारत न्यूज

Next Post

ओमीक्राेन से निपटने के लिए मिलकर काम करने की जरूरत : मांडविया

Fri Dec 3 , 2021
नयी दिल्ली, 03 दिसंबर (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मांडविया ने कोविड-19 के नये वैरिएंट ‘ओमीक्रोन’ के ख़तरों को देखते हुए हवाई अड्डों सहित अन्य सार्वजनिक स्थानों पर संक्रमण की जांच के लिये सभी एजेंसियों एवं राज्य सरकारों को समन्वय बनाकर काम करने कहा है। श्री मांडविया […]