आशा कार्यकर्ता व पर्यवेक्षकों को बीएमओ ने भेजा नोटिस

टीकाकरण महाअभियान में लापरवाही बरतने पर कार्रवाई

सिंगरौली :  कोविड-19 वैक्सिनेशन महाअभियान के अंतर्गत निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप प्रगति न्यून होने पर कलेक्टर के निर्देश पर देवसर एवं चितरंगी के बीएमओ ने लापरवाह सेक्टर आशा पर्यवेक्षक व आशा कार्यकर्ताओं को शो काज नोटिस जारी करते हुए दो दिवस के अंदर जबाव देने के लिए कहा गया है। ज्ञात हो कि कल 27 नवम्बर को टीकाकरण महाअभियान चलाया गया था। जिसमें आशा कार्यकर्ता व पर्यवेक्षकों द्वारा घोर लापरवाही बरती गयी है। जिन्हें वेतन काटने व सेवा समाप्त करने नोटिस जारी की गयी है।

जानकारी के मुताबिक बीएमओ देवसर ने कोविड-19 वैक्सिनेशन महाअभियान में लक्ष्य के अनुरूप उपलब्धि हासिल न करने पर 23 आशा परिवेक्षकों रनिया सिंह सेक्टर गजरा बहरा, सुखरजुआ सिंह पिपरखाड़, फूल कुमारी करदा, संतोष कुमारी साहू ढोंगा, सुष्मिता साहू पुरैल, ममता विश्वकर्मा ओडग़ड़ी, अरूंधती साहू सहुआर, आभा गुर्जर खंधौली, आशा तिवारी कटई, प्रमिला बैस गिधेर, शीला पनिका सरई, फूलमती पनिका उज्जैनी, वीणा पाण्डेय झखरावल, प्रमिभा पाठक सरौंधा, सीमा शर्मा सरहा, सुमित्रा साकेत बरका, अनीता शुक्ला अतरवा, कंचन कुमारी जायसवाल शिवगढ़, राजदुलारी मिश्रा आमो, प्रभावती पनिका छमरछ, फूलकुमारी सिंह दुधमनिया, लक्ष्मी साहू बंजारी, पुष्पा गुप्ता ईटार को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

इसी तरह चितरंगी बीएमओ डॉ.भूपेन्द्र सिंह ने आधा दर्जन आशा पर्यवेक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जिसमें आशा पर्यवेक्षक राजकुमार जायसवाल खटाई, हिरनमती साकेत पोंड़ी-2, पिंकी जायसवाल लमसरई, कविता सिंह कतरिहार, सविता सिंह धवई एवं आशा बैस सूदा शामिल हैं। इन्हें वेतन काटने व सेवा समाप्ति की चेतावनी दी गयी है। नोटिस का जबाव देने के लिए दो दिवस का समय दिया गया है। आशा पर्यवेक्षकों को वैक्सिनेशन कराने के लिए 2-2 सौ का लक्ष्य दिया गया था।

चितरंगी के 16 आशा कार्यकर्ताओं से जबाव तलब

वैक्सिनेशन महाअभियान लक्ष्य के अनुरूप उपलब्धि कम होने के कारण कलेक्टर के निर्देश पर चितरंगी बीएमओ ने 16 आशा कार्यकर्ताओं को नोटिस जारी किया है। जिसमें उर्मिला कश्यप, ओम रमा पाठक खटाई, ऊषा देवी व बैसाखी देवी लमसरई, रीना सिंह, दिलबसिया देवी कपुरदेई, ममता गुप्ता धवई, अनीता बैस सूदा, सुनीता बरहवा टोला, सीमा कोल ओडऩी, नीलम बैस व सोनमती अजगुढ़,गायत्री यादव, उर्मिला बरवानी, संगीता साकेत एवं रामकुमारी आशा कार्यकर्ता बड़कुड़ को नोटिस जारी करते हुए वैक्सिनेशन टीकाकरण में 10-10 का लक्ष्य हासिल न करने पर जबाव मांगा गया है।

चार आशा पर्यवेक्षकों को चेतावनी-कोविड-19 टीकाकरण के लिए आशा पर्यवेक्षकों की ड्यूटी लगायी गयी थी। जिला कम्युनिटी मोबिलाईजर, कन्ट्रोल रूम कलेक्ट्रेट डीसीएम विपिन द्विवेदी द्वारा दूरभाष पर संपर्क कर मानीटरिंग की गयी। जिसमें आशा पर्यवेक्षक गैरहाजिर रहीं और इनका टीकाकरण प्रगति न्यून रही। इनका एक दिन का वेतन काटने व सेवा समाप्ति करने चेतावनी सीएमएचओ डॉ.एनके जैन ने दिया है। आशा पर्यवेक्षकों में इन्द्रपति शर्मा सेक्टर सिंगाही ग्रा.पं. सुहिरा, इन्द्रकली उपाध्याय सेक्टर करकोसा ग्राम ढेकी, आशा यादव पडऱीराजा ग्राम कोयलखूथ एवं उर्मिला नाई सेक्टर मकरोहर ग्राम भाऊखांड़, भवरखोह तथा मकरोहर शामिल हैं।

नव भारत न्यूज

Next Post

आमाडांड ओसीएम के मुख्य गेट से पुलिस ने टेलर वाहन में लोड 40 टन कोयला किया जप्त

Mon Nov 29 , 2021
मामले की जांच में जुटी पुलिस, वाहन के नंबर बदलकर कोयले की चोरी अनूपपुर:  एसईसीएल जमुना कोतमा क्षेत्र अंतर्गत आमाडांड खुली खदान के मुख्य गेट में 40 टन कोयला से लदा हाईवा वाहन को पुलिस ने मुख्य गेट से जब्त करते हुए मामले की जांच में जुटी हुई है। जहां […]