पबजी गेम खेलना छात्र को पड़ा भारी, महज 50 रू. के लिए साथी का कर दिया हत्या

अंधी हत्या की गुत्थी सुलझाने में जुटी सरई पुलिस

सिंगरौली : कक्षा 10 वीं के छात्र की हुई मौत की गुत्थी धीरे-धीरे सुलझने लगी है। प्रथम दृष्टया में पुलिस को छात्र की हुई मौत के कारणों का अहम सुराग हाथ लगे हैं। हालांकि पुलिस अभी मामले की विवेचना कर रही है। विवेचना के दौरान जो तथ्य सामने आया है वह चौका देने वाला है।गौरतलब हो कि ग्राम कोनी निवासी आशीष जायसवाल पिता केशव प्रसाद जायसवाल उम्र 15 वर्ष सरई उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के लंच अवकाश के दौरान तकरीबन डेढ़ बजे 22 नवम्बर को गायब हो गया था। तलाश के बाद जब आशीष का पता नहीं चला तो परिजनों ने गुमशुदगी की रिपोर्ट सरई थाना में दर्ज करायी।

कल 24 नवम्बर की शाम करीब 5 बजे छात्र आशीष जायसवाल का शव सरई उमा विद्यालय के चंद कदम दूर तालाब में मिलने के बाद सनसनी फैल गयी। शव के मिलने की जानकारी मिलते ही मौके पर टीआई संतोष तिवारी पुलिस टीम के साथ पहुंच शव को अपने कब्जे में लेते हुए विवेचना शुरू कर दिया। वहीं मृतक आशीष के परिजन हत्या की आशंका जताते हुए निष्पक्ष जांच कराने की मांग पर अड़ गये थे। टीआई संतोष तिवारी के समझाने के बाद मामला शांत हुआ। इधर सूत्र बता रहे हैं कि सरई पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गयी। जहां प्रथम दृष्टया में पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं।

हालांकि सरई पुलिस अभी इस इस मामले में कुछ भी कहने से बच रही है। किन्तु सूत्र बताते हैं कि छात्र आशीष की हत्या उसी के दोस्त ने महज 50 रूपये के लिए किया था। मृतक का दोस्त इटमा गांव का रहवासी है। दोनों पबजी गेम के शौकीन थे। मृतक 50 रूपये हार गया था और 50 रूपये देने का वादा किया था। सूत्र बताते हैं कि 22 नवम्बर को लंच के बाद विद्यालय से दोनों छात्र गायब हो गये और अरहर के खेत में दोनों पहुंचे। इसी दौरान इटमा निवासी छात्र व मृतक के बीच पैसे के लेन-देन को लेकर कहा-सुनी हुई।

इसी दौरान आशीष पर पत्थर से हमला करते हुए बेहोशी हालत में पहुंचा दिया। सूत्रों ने आगे बताया कि जब आशीष बेहोश हो गया तो उसे मरा समझ घसीटते हुए तालाब में फेंक दिया और उसका मोबाइल तोड़कर अरहर के खेत में फेंक दिया था। सूत्र यहां तक बता रहे हैं कि पुलिस ने तकरीबन 5 दर्जन छात्रों व दो दर्जन से अधिक ग्रामीणों से पूछताछ की और इस दौरान एक छात्र गिरफ्त में आया। जहां पुलिस लगातार उससे पूछताछ कर रही है। साथ ही मोबाइल अरहर के खेत से बरामद करने का दावा कर रही है। फिलहाल इस अंधी हत्या की गुत्थी सुलझाने एक-दो दिन के अंदर सरई पुलिस दावा कर रही है।

इनका कहना है
सरई पुलिस मामले की जांच कर रही है। विवेचना अधिकारी को कुछ अहम सुराग मिले हैं। इन तथ्यों के आधार पर पूछताछ की जा रही है। शीघ्र ही इस अंधी हत्या की गुत्थी सुलझेगी।
वीरेन्द्र कुमार सिंह
पुलिस अधीक्षक,सिंगरौली

नव भारत न्यूज

Next Post

संवैधानिक व्यवस्था को ध्वस्त कर रही है सरकार : कांग्रेस

Fri Nov 26 , 2021
नयी दिल्ली, 26 नवंबर (वार्ता) संविधान दिवस पर आयोजित सरकारी कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेने पर कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार निरंतर संवैधानिक संस्थाओं पर चोट पहुंचा रही है, संविधान में प्रदत नियमों का उल्लंघन कर संवैधानिक व्यवस्था को ध्वस्त किया जा रहा […]