सिंधिया-केपी यादव एक साथ: ज्योतिरादित्य के साथ लिया गुना सांसद ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का जायजा

ग्वालियर: केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ग्वालियर-चंबल संभाग में बाढ़ के बाद बिगड़े हालातों का जायजा लेने अशोकनगर और गुना पहुंचे। इस दौरान उनको हराने वाले सांसद केपी यादव भी साथ दिखे। सिंधिया के BJP में जाने के बाद यह पहला मौका है जब दोनों एक साथ एक ही हेलिकॉप्टर से जिले के दौरे पर पहुंचे। पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया, दोनों जिले के प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर भी उनके साथ रहे। गुना में सबसे पहले उन्होंने पूरे क्षेत्र का हवाई सर्वे किया। इसके बाद अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की बैठक ली।

कुछ दिन पहले सांसद केपी यादव ने दिल्ली पहुंचकर सिंधिया को केंद्रीय मंत्री बनने की बधाई दी थी।केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया रविवार सुबह 10 बजे ग्वालियर अंचल के शिवपुरी, गुना, अशोक नगर के बाढ़ प्रभावित इलाकों के दौरे पर निकले। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने कहा कि एक-एक प्रभावितों को मदद मिलेगी। इससे पहले उन्होंने श्योपुर के लिए राशन से भरे 3 ट्रकों को रवाना किया। वहीं, शनिवार रात ग्वालियर पहुंचने के बाद सिंधिया ने सबसे पहले अफसरों की बैठक ली।

बैठक में उनका फोकस एक ऐसा सिस्टम बनाना था, जिससे भविष्य में इस तरह की आपदा से पहले ही प्रबंधन किया जा सके। इसके लिए रात 1 बजे उन्होंने एक डेशबोर्ड बनाकर कन्ट्रोल कमांड सेंटर से पूरी निगरानी के निर्देश दिए। केंद्रीय मंत्री सिंधिया के निर्देश पर चंद घंटों में पूरा डेशबोर्ड बनकर तैयार हो गया। सुबह अंचल के दौरे पर रवाना होने से पहले सिंधिया के सामने प्रेजेंटेशन भी दिया गया। डेशबोर्ड से नदियों, डैम और मौसम पर नजर रखी जाएगी, जिससे इस तरह की आपदा से पहले ही लोगों को अलर्ट किया जा सके। वहीं, एक दिन पहले कमलनाथ के आरोपों पर सिंधिया ने कहा कि वह कुछ न बोलें, उन्होंने 15 महीने में कुछ नहीं किया। जनता की सेवा हवा से नहीं जमीन पर रहकर की जाती है।

नव भारत न्यूज

Next Post

उप चुनाव के पहले दूर होने लगे मतभेद

Mon Aug 9 , 2021
अरुण यादव और अजय सिंह की दूर हुई नाराजगी, ताकतवर हुए कमलनाथ भोपाल : मध्य प्रदेश में होने जा रहे 3 विधानसभा सीटों और खंडवा लोकसभा के उपचुनाव कि पहले कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के आपसी मतभेद धीरे -धीरे दूर होने लगे हैं। इससे पीसीसी चीफ और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ […]