शांती मोहल्ले में घरों का पानी सड़क पर,पैदल चलना भी मुश्किल

नाली के अभाव में सड़क पर जमा हो रहा सिवरेज तक का पानी, ननि अमला बेखबर,रहवासी व राहगीर भी परेशान

सिंगरौली :  निगम क्षेत्र के वार्ड क्र.41 शांती मोहल्ला में सड़कें तो ननि के द्वारा बना दिया है। लेकिन आज तक नालियों के न बनने से वार्डवासियों के घरों का गंदा पानी सड़कों पर जमा हो रहा है। जिससे दो पहिया वाहन चालकों सहित पैदल चलने वाले लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। गौरतलब हो कि नगर पालिक निगम क्षेत्र के वार्ड क्र.41 शांती मोहल्ला में कॉलोनिया तैयार होने के बाद नगर निगम ने सड़कें तो बनवा दी है। लेकिन आज तक घरों से निकलने वाले गंदे पानी के निकासी की व्यवस्था नहीं कराया है। शांती मोहल्ला में एकाध ऐसी सड़कें होंगी जहां नालियां बनी हों, किन्तु अधिकांश सड़कोंं के किनारे नालियां न बनने से रहवासियों के घरों का गंदा पानी सड़कों पर बह रहा है।

जिससे मार्ग से निकलने वाले दो पहिया वाहन चालकों तथा पैदल चलने वाले राहगीरों को समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। वार्डवासियों का आरोप है कि नगर निगम द्वारा मोहल्लों में सड़कें तो जैसे तैसे कर बना दी गयी हैं। लेकिन नालियों का निर्माण न होने से घरों का पानी सड़कों पर बह रहा है। जिससे आने जाने में काफी परेशानियां हो रही हैं। वहीं जो सड़कें भी बनायी गयी थीं वह भी अब धीरे-धीरे बड़े-बड़े गड्ढों में तब्दील होती जा रही हैं। वहीं वार्ड के कुछ मोहल्लों में बनी नालियों की सफाई न होने की वजह से नालियां भी बजबजा रही हैं। जिससे शाम ढलते ही मच्छरों का आतंक बढ़ जाता है लोग बाहर बैठना भी चाहें तो मच्छरों के आतंक के कारण नहीं बैठ पाते।

मोहल्ले वासियों में ननि के खिलाफ बढऩे लगा असंतोष नगर निगम क्षेत्र के वार्ड क्र.41 शांती मोहल्ला में कॉलोनियों के बनने के बाद नगर निगम द्वारा लोगों के आने जाने की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए सड़के तो बना दी गयीं, लेकिन वार्ड के अधिकांश मोहल्लों में नालियां न बनने के कारण वार्डवासियों के घरों का गंदा पानी सड़कों पर बह रहा है। जिससे सड़क से निकलने वाले राहगीरों को घरों से निकला गंदा पानी से होकर गुजरना पड़ रहा है। कई बार तो अंधेरे में पैदल में चल रहे राहगीर सड़कों पर पानी भरा होने के कारण छोटे-मोटे गड्ढों में पैर पडऩे से गिर भी जाते हैं। जिससे उन्हें चोटे भी आती हैं। लेकिन आज तक ननि द्वारा नालियों को बनवाये जाने को लेकर किसी तरह का प्रयास नहीं किया गया।

गड्ढों में तब्दील सड़क, बढ़ रही दुर्घटनाएं शांती मोहल्ला में नगर निगम द्वारा बनायी गयी सड़कें भी अब बड़े-बड़े गड्ढों में तब्दील होती जा रही हैं। जिससे रात के समय में आने जाने वाले दो पहिया वाहन चालक सहित पैदल चलने वाले राहगीर इन गड्ढों की वजह से गिर पड़ते हैं। इस दौरान राहगीरों को चोटे भी आती हैं। इसके साथ ही वार्ड के जिन मोहल्लों में नालियां बनी हैं वह भी जीर्ण शीर्ण हालत में हैं और कई महीनों से नालियों की साफ-सफाई न होने के कारण नालियों में गंदा पानी जमा पड़ा हुआ है। जिससे नालियों से दुर्गंध आने के कारण वार्डवासियों का रहना मुश्किल हो गया है।

नव भारत न्यूज

Next Post

जनता के टैक्स से माननीयों की वेतन भत्तों एवं सुख सुविधाओं पर प्रतिमाह हो रहा करोडों का खर्च

Mon Oct 18 , 2021
लेकिन काम काज के मूल्यांकन का कोई पैमाना नहीं सुरेश पाण्डेय  1. एक बार विधायक बनने और मरने बाद भी परिजनों को पेंशन की पात्रता। 2. अपने फायदे के लिए बनाया नियम लेकिन काम काज का मूल्यांकन क्यों नहीं। 3. एक विधायक की वेतन प्रतिमाह 1 लाख 10 हजार। पन्ना:कहने […]