उप जेल पवई के अदंर से फरार तीन कुख्यात कैदियों को पकडने मे पुलिस ने पाई

पन्ना :  फरियादी उद्देश्य पिता छोटे लाल लारिया उम्र 31 वर्ष जेल प्रहरी उप जेल पवई द्वारा थाना पवई आकर रिपोर्ट किया की पवई उप जेल से विचाराधीन कैदी जेल के अंदर से दिनांक 11 अक्टूबर के दोपहर बाद सवा तीन बजे फरार हो गये है। फरियादी की रिपेार्ट पर से थाना पवई में धारा 224 भादवि0 का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। पुलिस अधीक्षक पन्ना धर्मराज मीना द्वारा घटना की गंभीरता को देखते हुये थाना प्रभारी पवई , थाना प्रभारी अमानगंज, तथा सिमरिया एंव पुलिस लाईन के बल एंव अधिकारियों के नेतृत्व में अलग अलग टीम गठित कर पुलिस अधीक्षक पन्ना द्वारा यथोचित दिशा निर्देश दिये गये।

उप जेल पवई के पीछे लगे जंगल एंव खाई में फरार आरोपीगणों की सघन सर्चिंग की गई जो उपरोक्त फरार तीनो आरोपीगणों को पुलिस द्वारा अलग-अलग स्थानों से हिरासत में लिया गया। व आरोपीगणों के कब्जे से जेल के अंदर से भागने में प्रयुक्त की गई सामग्री को किया गया। आरोपीगणों द्वारा पूछतांछ पर बताया गया कि जेल की उंची चार दीवारी कूदने के उपरांत सभी आरोपीगणों के पैरो में चोटे आई है जिसका ईलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पवई मे कराया गया है। उपरोक्त तीनों आरोपियों से दौरान विवेचना पूछताछ पर जो भी तथ्य सामने आएंगे पृथक से जानकारी बताई जाएगी। उपरोक्त गिरफ्तार शुदा तीनो आरोपीगणो को आज दिनांक 12 अक्टूबर को न्यायलय पवई के समक्ष पेश किया गया।

फरार कैदियों के नाम पता:- लूट में विचाराधीन महेन्द्र सिंह उर्फ दद्दू पिता शिवचरण सिंह गौड उम्र करीब 36 साल निवासी देवगांव थाना रीठी , बलात्कार का विचाराधीन कैदी- लक्ष्मी कांत विश्वकर्मा पिता रामखिलावन विश्वकर्मा उम्र 26 साल निवासी ग्राम झरकुआ थाना अमानगंज, अपहरण एंव हत्या का प्रयास विचाराधीन कैदी – अनिरूद्ध सिंह उर्फ पिन्टू पिता सुदामा सिंह राठोर उम्र 22 साल निवासी ग्राम नुनागर थाना शाहनगर हैं।

नव भारत न्यूज

Next Post

डिस्टेंस एजूकेशन के कोर्स हुए बंद

Wed Oct 13 , 2021
केंद्रीय विवि के दूरवर्ती शिक्षण केंद्र में इस वर्ष केवल सात पीजी डिप्लोमा कोर्स ही पढ़ाए जायेगें सागर 12 अक्टूबर. डॉ हरीसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय के दूरवर्ती शिक्षण केंद्र (डिस्टेंस एजूकेशन) में चल रहे डिग्री कोर्स इस वर्ष बंद रहेगें. करीब ढाई दशक से चल रहे इस केंद्र से चार […]