दूसरी छमाही में बाजार से 5.03 लाख करोड़ की उधारी लेगी सरकार

नयी दिल्ली  (वार्ता) सरकार ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही में बाजार से 5.03 लाख करोड़ रुपये की उधारी लेगी। यह राशि रिजर्व बैंक के माध्यम से जुटायी जायेगी।रिजर्व हर सप्ताह करीब 24 हजार रुपये जुटायेगा।

वित्त मंत्रालय ने रिजर्व बैंक के साथ विचार विमर्श कर देर शाम बाजार से उधारी जुटाने का कैलेंडर जारी किया।चालू वित्त वर्ष के आम बजट में सरकार ने बाजार से 12.05 लाख करोड़ रुपये जुटाने का अनुमान जताया था।
इसमें से पहली छमाही में 7.24 लाख करोड़ रुपये जुटाने की योजना थी लेकिन अब सरकार 7.02 लाख करोड़ रुपये जुटा रही है।
शेष राशि 5.03 लाख करोड़ रुपये दूसरी छमाही में जुटायी जायेगी।

वित्त मंत्रालय ने कहा कि पहली छमाही में औसतन 6.19 प्रतिशत ब्याज पर राशि जुटायी गयी है और इसकी औसत परिपक्वता अवधि 16.69 वर्ष है।
पहली छमाही में सरकारी बौंड की हर तरह के निवेशकों की अच्छी मांग रही है और इसलिये इस ब्याज लगभग स्थिर रहा है।

दूसरी छमाही के लिए निर्धारित 5.03 लाख करोड़ रुपये की उधारी में से अक्टूबर दिसंबर तिमाही में 2.60 लाख करोड़ रुपये जुटाने की योजना बनायी गयी है।13 सप्ताह तक सरकार 20- 20 हजार करोड़ रुपये की उधारी लेगी।

नव भारत न्यूज

Next Post

आरबीआई ने आरबीएल बैंक पर ठोका दो करोड़ का जुर्माना

Tue Sep 28 , 2021
मुंबई  (वार्ता) रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बैंकिंग नियमन अधिनियम के प्रावधानों का उल्लंघन करने के आरोप में निजी क्षेत्र के आरबीएल बैंक लिमिटेड पर दो करोड़ रुपये का जुर्माना ठोका है। आरबीआई ने सोमवार को जारी आदेश में बताया कि उसने 31 मार्च 2019 को आरबीएल की वित्तीय स्थिति के […]