ननि सिंगरौली को 200 में 192 अंक,प्रदेश में मिला प्रथम पुरस्कार

 

कम्पोस्टिंग कचरो के रख-रखाव में मिला प्रथम पुरस्कार,भोपाल में हुआ आयोजन,नगरीय प्रशासन मंत्री ने ननि आयुक्त को किया सम्मानित

सिंगरौली :  गीले कचरे के निष्पादन व कम्पोस्ट यूनिट के सफल संचालन के लिए सिंगरौली नगर पालिक निगम को प्रदेश में 192 अंकों के साथ प्रथम पुरस्कार हासिल हुआ है। गुरूवार को प्रशासन अकादमी भोपाल भवन के सभागार में आयोजित स्वच्छता प्रेरणा कार्यशाला के अंतर्गत स्वच्छता की बुनियादी सम्मान समारोह में म.प्र.शासन के नगरीय आवास एवं विकास विभाग मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने निगमायुक्त को प्रमाण पत्र देकर पुरस्कृत किया है। नपानि सिंगरौली को एमआरएफ एवं कम्पोस्टिंग, कचरों के रख-रखाव,निष्पादन पर सिंगरौली नपानि के अधिकारी, कर्मचारियों ने खुशी से झूम उठे हैं।

गौरतलब हो कि स्वच्छता की बुनियाद अभियान अंतर्गत बेहतर प्रदर्शन करने वाले निकायों का आज प्राप्त अंकों के आधार पर भोपाल स्थित प्रशासन अकादमी के सभागार मेें गुरूवार को स्वच्छता प्रेरणा कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें विभागीय मंत्री एवं राज्य मंत्री द्वारा स्वच्छता की बुनियाद अभियान के अंतर्गत बेहतर प्रदर्शन करने वाले निकायों को सम्मानित किया गया। जानकारी के मुताबिक भोपाल में आयोजित सम्मान समारोह कार्यक्रम में सूखे कचरे के निष्पादन में ननि सिंगरौली को 200 में कुल 192 अंक प्राप्त होने पर उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये प्रथम पुरस्कार नगरीय आवास एवं विकास विभाग मंत्री भूपेंद्र सिंह के द्वारा निगमायुक्त आरपी सिंह को प्रदान किया गया।

वहीं सूखे कचरे मटेरियल फैसिलिटी में सिंगरौली को 200 अंकों में से 188 अंक प्राप्त हुये। इधर कलेक्ट्रेट के कान्फे्रंस हाल में वेबिनार के माध्यम से जुड़े अधिकारी और कर्मचारियों में पुरस्कार की घोषणा होते ही खुशी से झूम उठे। यहां बताते चलें कि नगर पालिक निगम सिंगरौली स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में बेहतर प्रदर्शन करते हुये नये आयाम तय की थी। जिसमे शहर को ओडीएफ प्लस प्लस सर्टिफिकेट, कचरा मुक्त शहर में थ्री स्टार शहर, स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के 3 लाख तक की जनसंख्या वाले नगरीय निकायों की श्रेणी में सिंगरौली प्रदेश स्तर पर 6 वां और देश मे 15 वें स्थान पर सफलता हासिल कर चुका है।

शहरवासियों के सहयोग से मिली है सफलता
स्वच्छ भारत मिशन के नोडल अधिकारी व्हीपी उपाध्याय, उपायुक्त आरपी वैश्य ने शहर को समर्पित करते हुये कहा कि नागरिकों की सहभागिता और समर्पण से ही उपलब्धि हासिल हुई है। जिससे निरंतर आगे बढ़ाते हुये और सफल कार्य करते हुये प्रदेश व देश स्तर पर सिंगरौली को कार्य करना है। आगे कहा कि इसका श्रेय एक-एक शहर वासियों को जाता है। जिनके बदौलत यह पुरस्कार हासिल हुआ है और उम्मीद है कि इसी तरह का सहयोग आगे भी मिलता रहेगा तभी हम सिंगरौली को साफ स्वच्छ बना पायेंगे।

नपानि का अगला फोकस स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 पर
कचरे के निष्पादन पर नपानि सिंगरौली को प्रदेश में प्रथम स्थान मिलने पर जहां ननि के अधिकारी,कर्मचारी खुशी से गदगद हैं तो वहीं उनका उत्साह व मनोबल और बढ़ा है। बताया जा रहा है कि नपानि सिंगरौली का अगला फोकस 2022 में होने वाले स्वच्छता सर्वेक्षण पर है। जहां नपानि के अधिकारी ठान लिये हैं कि आगामी स्वच्छता सर्वेक्षण में सिंगरौली नपानि प्रदेश व देश में पहला स्थान अर्जित करे इसके लिए अभी से प्रयास शुरू करना पड़ेगा।

नव भारत न्यूज

Next Post

कृषि के साथ गौपालन एवं उद्यानिकी फसलें लें किसान: विधानसभा अध्यक्ष

Fri Sep 24 , 2021
विधानसभा अध्यक्ष ने बांटे प्रमाण पत्र और बीज के मिनी किट, सीएम ने वर्चुअली किसानों को किया सम्बोधित रीवा:  जनकल्याण और सुराज के 20 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में कृषि कल्याण और कृषि विभाग द्वारा बीज योजना को बढ़ावा देने, कृषि अधोसंरचना में सुधार तथा एफपीओ गठन व मिनी […]