महाकाल मंदिर जानेवाले रास्ते भी जाम

कई पार्किंग स्थल फुल, बसों के रूट भी बदले

उज्जैन: महाशिवरात्रि पर्व के चलते महाकालेश्वर के दर्शनों के लिए आस्था का सैलाब उमड रहा है. प्रशासन के सारे अनुमान धरे रह गए है और बाबा के दर्शनों के लिए देशभर से भक्तों आने का सिलसिला तीन दिनों से चल रहा है. शुक्रवार सुबह ही कई पार्किंग स्थल फुल हो गए थे. इस बीच महाकाल जाने वाले रास्ते जाम हो गए हैं और इसमें सैकड़ों वाहन फंसे हुए हैं. बसों के रूट भी आज से ही बदल दिए गए हैं.
शुक्रवार सुबह स्थिति यह थी कि महाकाल मंदिर जाने वाले सभी रास्ते जाम हो गए और इनमें वाहन फंसे हुए थे.

इधर, प्रशासन ने देवासगेट बस स्टैंड से बडऩगर-बदनावर-रतलाम की ओर जाने वाले बसों का रूट डायवर्ट करते हुए इन्हें फ्रीगंज ब्रिज से नानाखेड़ा भेजा जा रहा है. वहीं हरिफाटक ब्रिज पर बसों का आवागमन बंद कर दिया है. इस कारण नानाखेड़ा स्टैंड से बसें इस रूट पर नहीं आ रही हैं. सुबह में कर्कराज, कलौता समाज की धर्मशाला, मन्नत गार्डन सहित हरिफाटक के नीचे बनाए गए पार्किंग स्थल फुल हो गए थे. प्रशासन का अनुमान था कि महाशिवरात्रि पर्व पर दस लाख श्रद्धालु आएंगे. इसे लेकर पिछले एक पखवाड़े से व्यवस्था में लगा था. लेकिन इससे पहले ही लाखों श्रद्धालुओं के आने से प्रशासन की चिंता बढ़ गई है.

नव भारत न्यूज

Next Post

ओंकारेश्वर में ज्योतिर्लिंग जाने से पहले ही रोका

Sat Feb 18 , 2023
यात्रियों से की वापस जाने की अपील ओंकारेश्वर: ओमकारेश्वर में देशभर से आने वाले श्रद्धालुओं के दर्शन की जिला प्रशासन माकूल व्यवस्था नहीं कर पाया. वाहनों के पार्किंग की व्यवस्था भी नहीं थी. जिला प्रशासन को सबसे बेहतर यह लगा कि यात्रियों को ओंकारेश्वर में प्रवेश न दिया जाए. इसके […]