एक दूसरे पर फोड़ रहे ठीकरा


नपा और यातायात पुलिस व्यवस्थायें बनाने एक-दूसरे पर डाल रहे जिम्मेदारी
शहर की चरमरा रही यातायात व्यवस्था –प्रमुख चौक चौराहों और सड़कों पर मवेशियों का डेरा-दुपहिया वाहन और ऑटो कहीं भी हो रहे पार्क
विदिशा 20 सितम्बर नवभारत न्यूज, शहर की यातायात व्यवस्था को दुरस्त करने के लिये प्रशासन ने अतिक्रमण विरोधी मुहीम चलाकर सड़कों को चौड़ा तो कर दिया. लेकिन शहर के प्रमुख चौक चौराहों तथा सड़कों पर मवेशियों को डेरा है तो कहीं भी दुपहिया वाहन और ऑटो पार्क हो रहे हैं. जिससे शहर की यातायात व्यवस्था चरमरायी हुयी है. जिन जिम्मेदारों नगर पालिका और यातायात पुलिस को इन व्यवस्थाओं पर ध्यान देना है. वह अपनी जिम्मेदारी से बचते हुये एक दूसरे की जिम्मेदारी बताकर पल्ला झाड़ रहे हैं.

शहर के प्रमुख चौक चौराहों, सड़कों और यहां तक की ओव्हरब्रिज तक पर मवेशियों का प्रतिदिन डेरा रहता है. जिससे वाहन चालकों के साथ ही पैदल चलने वाले लोगों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है. ऐसा ही हाल शहर में प्रमुख चौक चौराहों और सड़कों तथा महान व्यक्तियों की जो मूर्तियां लगी हुयीं हैं.उसकी रोटरी के चारों तरफ ऑटो व वाहन पार्क किये जा रहे हैं. जिससे जहां इनकी सुंदरता प्रभावित हो रही है वहीं यातायात व्यवस्था भी प्रभावित हो रही है.अहमदपुर चौराहे पर डॉ.भीमराव अम्बेडकर जी की प्रतिमा के चारों तरफ ऑटो वालों ने अपने ऑटो पार्क करके यहां कब्जा कर रखा है. जिससे भी अव्यवस्था फैलती है. ऐसा ही हाल शहर की प्रमुख सड़कों और चौक चौराहों का है जहां कोई भी कहीं भी वाहन पार्क कर रहा है.

शहर की चरमरायी हुयी यातायात व्यवस्था को जिन सरकारी अमलों नगर पालिका और यातायात पुलिस अमले को ध्यान देकर ठीक करना है. वह इस अव्यवस्था के लिये एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ रहे हैं.

नपा नहीं पकड़ रही मवेशियों को-टे्रफिक इंचार्ज

यातायात प्रभारी आशीष राय का कहना है कि शहर में आवारा घूम रहे मवेशी, रोड पर हो रहे गड्ढे, ऑटो और दुपहिया वाहन पार्किंग स्थल आदि व्यवस्थाओं को बनाने का काम नगर पालिका का है. लेकिन नगर पालिका इन व्यवस्थाओं पर ध्यान नहीं दे रही है. आवारा मवेशियों को पकडऩे के लिये हम कई बार नपा से पत्राचार कर चुके हैं. लेकिन वह मवेशियों को नहीं पकड़ रही.

यातायात पुलिस नहीं कर रही कार्यवाही-सीएमओ

मुख्य नगर पालिका अधिकारी सुधीरसिंह का कहना है कि नपा ने शहर में सुगम यातायात व्यवस्था बनाने के लिये शहर के प्रमुख चौक चौराहों और सड़कों से अतिक्रमण हटाकर उन्हें चौड़ा कर दिया है. लेकिन इसके बाद दुकानदार सड़कों पर सामान रखकर दुकानदारी कर रहे हैं. तो लोग कहीं भी वाहन पार्क कर रहे हैं. जिससे यातायात व्यवस्था प्रभावित होती है. ऐसे लोगों के खिलाफ यातायात पुलिस अमला कार्यवाही नहीं कर रहा. जिससे अव्यवस्था फैल रही है. विदिशा कृषक प्रधान जिला है जिसके कारण लोग अपने मवेशियों को सड़क पर छोड़ रहे हैं. जिन्हें न छोडऩे के लिये जनता से अपील की जा रही है. प्रतिदिन मवेशियों को पकड़ा जा रहा है. फाइन किया जा रहा है. लेकिन शहर में घूम रहे 302 सांडों को नपा अमला नहीं पकड़ पा रहा. इन्हें पकडऩे के चक्कर में नगर पालिका के 3 कर्मचारियों के हाथ टूट चुके हैं

नव भारत न्यूज

Next Post

नहाने कुएं में कूदे तीन युवक

Tue Sep 21 , 2021
दो को सुरक्षित निकाला एक की मौत बैतूल/आठनेर। थाना क्षेत्र के ग्राम हिडली में तीन शराबी युवक नहाने के लिए कुएं में कूद गए। दो युवक तैरते हुए बाहर निकल गए, लेकिन एक युवक की पानी में डूबने से मौत हो गई। आठनेर थाना प्रभारी जयंत मर्सकोले ने बताया कि […]