गिरावट थमी, शेयर बाजार में लौटी तेजी

मुंबई 08 दिसंबर (वार्ता) वैश्विक स्तर के कमजोर संकेतों के बावजूद घरेलू स्तर पर सीजी, बैंकिंग, वित्तीय सेवायें, सेवायें, टेक, धातु, तेल एवं गैस, इंडस्ट्रीयल और ऑटो जैसे समूहों में हुयी लिवाली के बल पर शेयर बाजार में जारी गिरावट पर आज ब्रेक लग गया और सेंसेक्स तथा निफ्टी हरे निशान में बंद होने में सफल रहा।

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 160 अंकों की बढ़त के साथ 62570.68 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 48.85 अंक चढ़कर 18609.35 अंक पर रहा।
इस दौरान मझौली और छोटी कंपनियों में भी लिवाली हुयी जिससे बीएसई का मिडकैप 0.43 प्रतिशत बढ़कर 26096.32 अंक पर और स्मॉलकैप 0.32 प्रतिशत उठकर 29855.79 अंक पर रहा।

बीएसई में शामिल समूहों में से अधिकांश समूह हरे निशान में दिखे।
कुछ समूह लाल निशान में भी रहे।
बीएसई में कुल 3619 कंपनियों में कारोबार हुआ जिसमें से 1808 बढ़त में और 1681 गिरावट में रही जबकि 130 में कोई बदलाव नहीं हुआ।

वैश्विक स्तर पर अधिकांश बड़े सूचकांक लाल निशान में रहा।
जापान का निक्केई 0.40 प्रतिशत, जर्मनी का डैक्स 0.34 प्रतिशत और चीन का शंघाई कंपोजिट 0.07 प्रतिशत टूट गया जबकि हांगकांग का हैंगसेंग 3.38 प्रतिशत और ब्रिटेन का एफटीएसई 0.01 प्रतिशत बढ़ गया।
बीएसई का सेंसेक्स 94 अंकों की बढ़त के साथ 62504.04 अंक पर खुला।
सत्र के दौरान यह 62320.18 अंक के निचले स्तर तक टूटा लेकिन लिवाली के जोर पकड़ने पर यह 62633.56 अंक के उच्चतम स्तर तक चढ़ा।
सत्र के अंत में यह पिछले दिवस के 62410.68 अंक की तुलना में 0.26 प्रतिशत अर्थात 160 अंकों की बढ़त के साथ 62570.68 अंक पर रहा।

सेंसेक्स में शामिल 30 कंपनियों में से 13 को लाभ हुआ जबकि 17 को नुकसान उठाना पड़ा।

एनएसई का निफ्टी 10 अंकों की बढ़त के साथ 18570.85 अंक पर खुला।
सत्र के दौरान यह 18625 अंक के उच्चतम और 18536.95 अंक के निचले स्तर के बीच रहा।
अंत में पिछले दिवस के 18560.50 अंक की तुलना में 48.85 अंक अर्थात 0.26 प्रतिशत बढ़कर 18609.35 अंक पर रहा।

निफ्टी में शामिल 50 कंपनियों में से 27 को लाभ हुआ जबकि 23 को नुकसान हुआ।

नव भारत न्यूज

Next Post

राजस्व का दायरा बढ़ाते हुए कर चोरी रोकने पर फोकस हो: बिरला

Thu Dec 8 , 2022
नयी दिल्ली 08 दिसंबर (वार्ता) लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि राजस्व का दायरा व कर आधार बढ़ाते हुए कर चोरी रोकने पर फोकस होना चाहिए। श्री बिरला ने गुरुवार को संसद भवन परिसर में भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) के 75वें बैच के आईआरएस परिवीक्षार्थियों के […]