येलो अलर्ट: शीतलहर की चपेट में शहर

जबलपुर: पहाड़ों से आ रही उत्तरी बर्फीली हवाओं से शहर शीतलहर की चपेट में आ गया है। तापमान में भी आंशिक उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है। पहाड़ों में हो रहे हिमपात से पूर्वी मध्यप्रदेश सहित जबलपुर में ठंडक का अहसास बढ़ गया है। सुबह और रात में कंपकंपी छूटने लगी है। सुबह कोहरे की चादर और दिन में हल्की धुंध देखी जा रही है। शनिवार को ठंड का अहसास दिन में तो होता रहा रात में लोग ठंडी हवाओं से सिहर उठे। जैसे-जैसे रात गहराती गई ठंड का अहसास बढ़़ता गया। लोग सिर से पैर तक गर्म कपड़े में लिपटे आवागत करते दिखे। ठंड से बचने लोग रात में आग का सहारा ले रहे हैं। इधर मौसम विभाग ने रविवार को जबलपुर समेत संभाग के जिलों में शीतलहर का येलो अलर्ट जारी किया है।
ऐसा रहा तापमान
शनिवार को अधिकतम तापमान 27.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। न्यूनतम तापमान 84 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। सुबह के वक्त आद्रता 70 और शाम को 50 प्रतिशत दर्ज की गई। उत्तरी हवाएँ 3 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चली। आज शहर में कहीं-कहीं शीतलहर चलने की संभावना है।
यह सिस्टम है सक्रिय
मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक उत्तर भारत की तरफ से सर्द हवाएं आ रही हैं। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से आगामी कुछ दिनों में मध्य प्रदेश के मौसम में बदलाव देखने को मिल सकता है। 29 नवंबर को नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के संकेत मिल रहे हैं इसके असर से हवा का रुख पश्चिमी हो सकता है। नतीजतन दिन के साथ ही रात के तापमान में आंशिक रूप से बढ़त हो सकती है।
ये बरतें सावधानी
मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी करने के साथ ही सुझाव दिए है। मौसम विभाग के मुताबिक शिशुओ, गर्भवती महिलाएँ, बुजुर्गों, पुरानी बीमारियों वाले आदि अधिक समय तक ठंड के संपर्क में रहने से बचे। ढीला, हल्के वजन कई सतहों वाले गर्म ऊनी कपड़े पहनें, सिर, गर्दन, हाथों को अच्छे से ढकके रखे।

नव भारत न्यूज

Next Post

जिले को मिला 1 लाख 20 हजार मैट्रिक टन धान खरीदी का लक्ष्य

Sun Nov 27 , 2022
28 नवम्बर से समर्थन मूल्य के तहत जिले में 53 केन्द्रों पर होगा धान का उपार्जन,खरीदी को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में सिंगरौली: जिले में समर्थन मूल्य के तहत 28 नवम्बर यानी सोमवार से जिले के 53 केन्द्रों पर धान खरीदी की जायेगी। जिसको लेकर खाद्य विभाग के द्वारा सभी […]