डर फैला रहे, संविधान खत्म करने की कोशिश

महू में संघ और भाजपा पर फिर हमलावर हुए राहुल गांधी

मिलिंद मुजूमदार/ सतीश अमोरा

मोरटक्का/ बड़वाह/ महू. भारत जोड़ो यात्रा के दौरान महू में आयोजित सभा में राहुल गांधी ने एक बार फिर से आरएसएस और बीजेपी पर हमला बोला. राहुल ने आरोप लगाया कि आरएसएस और बीजेपी देश में डर, नफरत और हिंसा का माहौल फैला रहे हैं. ये लोग पीछे से संविधान को खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि सामने से ऐसा करने की उनमें हिम्मत नहीं है.

भाजपा-आरएसएस पर तीखा हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि आरएसएस और भाजपा बाबा साहब अंबेडकर, महात्मा गांधी व जवाहरलाल नेहरू द्वारा बनाए गए संविधान को नष्ट करने में लगा हुआ है. आरएसएस का एकमात्र उद्देश्य नफरत फैलाना है और लोकतांत्रिक संस्थाओं को नष्ट करना है. इसके लिए आरएसएस अपने लोगों को तमाम संवैधानिक संस्थाओं में भर्ती कर रहा है. आरएसएस ने 52 वर्षों तक कभी अपने मुख्यालय पर तिरंगा नहीं फहराया लेकिन आज संविधान को नष्ट करने में सबसे आगे है.

व्यापारी तबाह
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों के कारण छोटे व्यापारी तबाह हो रहे हैं. छोटे व्यापारी अर्थव्यवस्था की रीढ़ हैं. मैंनेअपने प्रवास के दौरान अनेक व्यापारियों से चर्चा की उनका कहना है कि जीएसटी और नोटबंदी के कारण हम बर्बाद हो गए. देश में बेरोजगारी बढ़ रही है, महंगाई चरम पर है. गैस सिलेंडर के दाम आसमान को छू रहे हैं, लेकिन भाजपा का एकमात्र एजेंडा नफरत फैलाने का है. कांग्रेस पार्टी देश में ऐसा नहीं होने देगी. जब तक कांग्रेस है,तब तक देश में संविधान रहेगा.

बाबा साहब को श्रृद्धा सुमन अर्पित
महू के ड्रीमलैंड चौराहे पर सभा को संबोधित करने से पूर्व राहुल गांधी ने संविधान दिवस के अवसर पर संविधान निर्माता भारत रत्न बाबा साहेब आंबेडकर की जन्म स्थली पर जाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किए. उनके साथ कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे भी थे. इससे पूर्व शाम को राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा ने इंदौर जिले में प्रवेश किया. यात्रा के साथ सैकड़ों नेता और कार्यकर्ता चल रहे हैं. इंदौर जिले में उनकी यात्रा की भव्य अगवानी की गई. राहुल गांधी शनिवार को महू में विश्राम करेंगे. रविवार को सुबह वे महू से चलकर इंदौर पहुंचेंगे. इसके पूर्व यात्रा आज मोरटक्का, बड़वाह, बलवाड़ा, चोरल होते हुए महू पहुंची.

शायराना अंदाज… मोहब्बत करने वाले नहीं डरते…
राहुल ने कहा कि मेरी दादी को 32 गोली लगी थी, मेरे पिता को बम से मारा गया, मेरे खिलाफ हिंसा की गई. लेकिन जिस दिन मेरे दिल से डर मिट गया, उस दिन से मेरे दिल में मोहब्बत हो गई. मैं आरएसएस से लड़ता हूं, मोदी से लड़ता हूं लेकिन मेरे दिल में उनके लिए नफरत नहीं है क्योंकि मेरे दिल में डर नहीं है. राहुल गांधी ने शायराना अंदाज में कहा कि – मोहब्बत करने वाले किसी से नहीं डरते. डरने वाले कभी मोहब्बत नहीं करते.

संविधान की रक्षा के लिए जुड़ेंः खड़गे
राहुल गांधी से पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने सभा को संबोधित किया और उन्होंने संविधान के नाम पर उपस्थित जन समुदाय को शपथ दिलाई. मलिकार्जुन खड़गे ने कहा कि यदि संविधान की रक्षा करना है, तो सभी को कांग्रेस और राहुल गांधी का समर्थन करना पड़ेगा. इस सभा में मलिकार्जुन खड़गे के अलावा जयराम रमेश, केसी वेणुगोपाल,राजीव शुक्ला,जेपी अग्रवाल,कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, गोविंद सिंह,भूपेश बघेल, टी एस सिंह देव,प्रतिभा सिंह सहित करीब 50 से अधिक बड़े नेता मौजूद थे. सभा का संचालन सज्जन सिंह वर्मा ने किया.

नव भारत न्यूज

Next Post

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव नहीं

Sun Nov 27 , 2022
नयी दिल्ली 27 नवंबर (वार्ता) अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई गिरावट के बावजूद देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में रविवार को भी कोई बदलाव नहीं हुआ। अंतरराष्ट्रीय बाजार में लंदन ब्रेंट क्रूड आज 83.63 डॉलर प्रति बैरल पर और अमेरिकी क्रूड 1.78 प्रतिशत गिरकर […]