यात्रा को लेकर उत्साह, रास्ते में लोगों से मिले राहुल

राजेन्द्र पाराशर-नदीम रायल.
मनिहार/ खरगोन: राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के मध्यप्रदेश में चौथे दिन की शुरुआत मोरटक्का से की. फिर यात्रा बड़वाह होते हुए खरगोन जिले के मनिहार पहुंची गई. लंच ब्रेक के बाद यात्रा बलवाड़ा के लिए निकली. फिर इसके बाद इंदौर जिले के महू पहुंच गई. जहां उन्होंने संविधान निर्माता बाबा साहेब आंबेडकर के स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की फिर इसके बाद सभा को संबोधित किया. शनिवार को यात्रा के दौरान राहुल ने रास्ते में कई लोगों से चर्चा भी की.

यात्रा को लेकर लोगों में काफी खासा उत्साह देखा गया. इधर राहुल रास्ते में कई जगह लोगों से मिलते भी रहे हैं. रास्ते में महिलाएं सिर पर कलश लेकर खड़ी नजर आईं तो कहीं भारत माता और भगत सिंह के किरदार में बच्चे नजर आ रहे थे. यात्रा के दौरान रास्ते में एक दिव्यांग युवक बीच रास्ते में बैठ गया. सुरक्षाकर्मियों के हटने के बाद भी वे रास्ते से नहीं हटे. जब राहुल गांधी वहां आए तो उनसे कुछ देर तक बात की और आगे बढ़ गए.

प्रियंका अपने परिवार के साथ लौटीं
भारत जोड़ो यात्रा में शामिल प्रियंका गांधी वाड्रा अपने परिवार के साथ शनिवार सुबह वापस लौट गईं. वे सुबह यात्रा के साथ बड़वाह तक आईं. इस दौरान उनके पति राबर्ट वाड्रा और बेटा रेहान भी था। इस दौरान सभी चाय पीने के लिए रुके। यहां से सुबह करीब साढ़े आठ बजे वे परिवार के साथ इंदौर लौट गईं। कांग्रेस नेताओं के अनुसार वे इंदौर होते हुए दिल्ली गई हैं.

कैंप में सांप निकला
राहुल गांधी के कैंप के बाजू वाले भोजन कैंप मनिहार में लंच के समय सांप निकलने से अफरातफरी मच गई. अचानक सांप देखकर कुछ लोग घबरा गए। सांप करीब दो-तीन फीट का था. मप्र के नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह भी वहीं कुर्सी पर बैठे हुए थे. उन्होंने भी सांप को पकडऩे की कोशिश की. उसे बोरे में पकड़कर बाहर छोड़ दिया गया.

धक्का-मुक्की में गिरे दिग्विजय
यात्रा के दौरान बड़वाह से करीब 4 किलोमीटर आगे बढऩे पर राहुल गांधी चोरबावड़ी के पास बने एक होटल पर अचानक चाय ब्रेक के लिए रुक गए. इसी दौरान वहां धक्का-मुक्की हो गई, जिसमें दिग्विजय सिंह गिर गए. मामूली खरोचें आई हैं. उनके ऊपर कुछ कार्यकर्ता भी गिर गए. अन्य कार्यकर्ताओं ने उन्हें उठाया. इसके बाद दिग्विजय सिंह ने नाराजगी जताई.

अच्छे मूड में थे राहुल
राहुल गांधी का मूड शनिवार को अच्छा था। उन्होंने यात्रा के दौरान महिलाओं और युवतियों के साथ फोटो खिंचवाई। उनके व परिवार के फोटो लोगों के हाथों में देखे। फोटो छूकर वापस कर दिए। थैंक्यू भी कहा। रोज की तरह सड़क के दोनों ओर भारी भीड़ लगी थी। भीड़ में लोग राहुल गांधी को देखने के लिए नजरें घुमा रहे थे। राहुल गांधी की स्पीड अब और तेज हो गई है। साथ चलने वाले लोग तो मैराथन की तरह दौड़ रहे हैं।

पुल से नर्मदा पूजन किया
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी द्वारा निकाली जा रही भारत जोड़ो यात्रा मध्यप्रदेश में चौथे दिन यात्रा को शुरू किया. मोरटक्का से शुरू हुई यात्रा के बाद नर्मदा पुल पर राहुल प्रियंका सहित बड़ी संख्या में मौजूद यात्रियों ने नर्मदाजी का पुल से ही पूजन किया।

ये भी चल रहे साथ
यात्रा में कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, बाला बच्चन, अरुण यादव, जयराम रमेश, योगेंद्र यादव, कन्हैय्या कुमार, मेघा पाटकर, पीसी शर्मा, छत्तीसगढ़ के टीएस सिंहदेव, घनश्याम राठौर, पूर्व मंत्री तरुण भनोट राजकुमार पटेल सहित कई कार्यकर्ता चल रहे थे। यात्रा के बड़वाह से निकलने के बाद खरगोन पुलिस एवं प्रशासन ने राहत की सांस ली।

बाबा साहेब आंबेडकर की जन्म स्थली पहुंचे
भारत के लोग यात्रा पर निकले राहुल गांधी आज शाम को इंदौर जिले के महू में पहुंचे, जहां उन्होंने बाबा साहब अंबेडकर की जन्म स्थली पर जाकर होने श्रद्धा सुमन अर्पित किए। उनकी जन्म स्थली पर भव्य स्मारक बना हैं। राहुल गांधी के साथ, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश पटेल, छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष प्रतिभा सिंह, लोकेंद्र मंत्री सुरेश पचोरी सहित अनेक विधायक और सांसद मौजूद थे। 26 नवंबर को देश संविधान दिवस मनाता है। इस कारण से राहुल गांधी का बाबा साहब के स्मारक पर जाना महत्व रखता है क्योंकि बाबा साहेब अंबेडकर को संविधान का निर्माता माना जाता है।

राज्यपाल भी महू आए
मध्य प्रदेश के राज्यपाल महामहिम मंगू भाई पटेल भी आज संविधान दिवस के उपलक्ष में बाबा साहब की जन्मस्थली महू आए। उन्होंने यहां स्थित बाबासाहेब आंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय में एक कार्यक्रम को संबोधित किया। राज्यपाल इस विश्वविद्यालय के कुलाधिपति भी हैं। उन्होंने बाद में अंबेडकर स्मारक पर जाकर बाबा साहब के को श्रद्धा सुमन अर्पित किए। उनके साथ प्रदेश की संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री
ऊषा ठाकुर भी थीं।

नव भारत न्यूज

Next Post

वीवीआईपी बने आम: पूर्व मंत्री दौड़े सांप पकडऩे,कई के सर व नाक फूटे

Sun Nov 27 , 2022
खंडवा: राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में अति विशिष्ठ नेता भी सामान्य बनकर लोगों के सामने सड़कों पर हैं। जिन नेताओं के लिए हेलीकाफ्टर खड़ा रहता है। वे धूल में सने होकर राहुल गांधी के लिए भीड़ चीरकर रास्ता बना रहे हैं। 70 की उम्र के पार वाले नेता […]