इंदौर आते ही भाई से मिलने रात में ही रुस्तमपुर पहुंचीं प्रियंका

खंडवा: राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में गुरूवार को खास दिन रहेगा। इस दिन कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी वाड्रा भी खंडवा के आयोजन में शामिल होंगी। इंदौर आने के बाद शाम को ही प्रियंका गांधी कार से खंडवा की तरफ रवाना हो गई। इस बीच छैगांवमाखन में कांग्रेस के युवा नेता मुल्लू राठौर और टोनू राठौर ने रोक लिया। राहुल के लिए बन रहे मंच पर ही उन्होंने प्रियंका गांधी का स्वागत कर दिया। प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं से धन्यवाद कहा। उन्होंने कहा कि इंदौर से बुरहानपुर जाने वाला रास्ता बहुत खस्ताहाल है।

पहले वे गुरूवार दोपहर हेलीकाफ्टर से खंडवा पहुंचने वाली थीं, लेकिन खंडवा जिले के बाहर रुस्तमपुर के आगे बुरहानपुर जिले स्थित राहुल की यात्रा के कैंप में पहुंच गईं। हो सकता है कि प्रियंका गांधी के पति श्री वाड्रा और उनके बच्चे भी कुछ दूर साथ चलें।प्रियंका गांधी का एयरपोर्ट पर स्वागत बाला बच्चन ने कमलनाथ की तरफ से किया। कमलनाथ इस बक्त राहुल गांधी के साथ हैं। इसलिए उन्होंने अपने खास बाला बच्चन को इँदौर रिसीव करने के लिए भेजा था। निमाड़ ही नहीं देश के लिए यह गौरव की बात होगी कि राहुल गांधी का परिवार खंडवा में इस यात्रा में शामिल होगा।

सूत्र बताते हैं कि अपने भाई राहुलगांधी को हौसला देने और कांग्रेस को मजबूत करने के लिए प्रियंका ने इस यात्रा में शामिल होने का कदम उठाया है। सबको पता है कि गांधी परिवार ने देश के क्या किया है? इस परिवार ने अपने कई पूर्वजों यहां तक कि पिता, नानी की हत्या का सदमा सहा है। राहुल गांधी को इंदौर में धमकी मिली थी। बाद में बयान आया था कि यह परिवार देश के लिए कोई भी कीमत चुकाने को तैयार है। हालांकि नेताओं ने पहले ही कह दिया है कि गांधी परिवार का हौसला मजबूत है। वे किसी भी धमकी से नहीं डरते। अपने भाई को सपोर्ट करने के लिए प्रियंका गांधी भी खंडवा से यात्रा में शामिल हो सकती हैं।

उन्हें रिसीव करने पहुंचे बाला बच्चन ने बताया कि प्रियंका गांधी यात्रा में शामिल होने को लेकर काफी उत्साहित हैं। वे अपने भाई के साथ कांग्रेस व देश को भी सपोर्ट कर रही हैं। इस यात्रा से कांग्रेस और मजबूत होगी। आम लोग भी समझ सकते हंै कि 2023 में विधानसभा और 2024 में लोकसभा के चुनाव होने हैं। मध्यप्रदेश में जनता पहले ही कांग्रेस को बहुमत दे चुकी है। कुछ विधायकों के बिकने वाला बयान राहुल गांधी मध्यप्रदेश में घुसते ही दे चुके हैं। गुरूवार को भी आदिवासियों और जननायक के साथ प्रदेश की सरकार के खिलाफ कुछ बयान दे सकते हैं। हो सकता है कि राहुल की यात्रा के एक दिन पूर्व मध्यप्रदेश के सीएम को जननायक के स्मारकस्थल का दौरा करने पर कटाक्ष किया जाएगा।

नव भारत न्यूज

Next Post

पुलिस ने किये गांजे के पौधे जप्त

Thu Nov 24 , 2022
झाबुआ: पुलिस अधीक्षक अगम जैन के मार्ग दर्शन एवं निर्देशन में जिले में मादक पदार्थो के विरूद्ध सख्त एवं प्रभावी कार्यवाही लगातार की जा रहीं है। 23 नवंबर को झाबुआ विखं के थाना कल्याणपुरा की पुलिस टीम को अपने विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली की बदिया पिता किडिया जाति मुनिया […]