जलूद में लगेगा 300 करोड़ का सोलर प्लान्ट, रेसीडेंसी एरिये का नाम होगा महाराणा बख्तावर सिंह

मेयर इन काउंसिल की बैठक में 550 करोड़ रुपए के विकास कार्यो की स्वीकृति

इन्दौर:सोमवार को पहली एमआईसी की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए. बैठक में निर्णय लिया गया कि रेसीडेन्सी क्षेत्र का नाम महाराणा बख्तवारसिंह के नाम किया जाएगा. सिरपुर तालाब का नाम अहिल्या सरोवर किया जाएगा. लता मंगेशकर की मूर्ति गांधी हॉल परिसर में लगाई जाएगी. इसके अलावा 550 करोड़ के विकास कार्यों की स्वीकृति दी गई.महापौर पुष्यमित्र भार्गव की अध्यक्षता में मेयर-इन-कौंसिल की बैठक संपन्न हुई. बैठक में महापौर परिषद सदस्य राजेन्द्र राठौर, अश्विनी शुक्ल, निरंजनसिंह चैहान, राजेश उदावत, अभिषेक शर्मा, नदंकिशोर पहाड़िया, प्रिया डांगी, मनीष शर्मा मामा, जीतेन्द्र जीतू यादव, राकेश जैन, आयुक्त प्रतिभा पाल, एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे. एमआईसी बैठक की शुरुआत पहली बार राष्ट्रीय गीत के साथ हुई तथा बैठक का समापन राष्ट्र गान से हुआ.

बैठक में 300 करोड़ रुपये की लागत से जलूद में सोलर प्लान्ट लगाने का निर्णय लिया गया. इसके साथ विभिन्न निर्माण कार्य की लागत 250 करोड़ रुपये के विकास कार्यो की स्वीकृति प्रदान की गई. इसके अतिरिक्त शहर में सीसीटीव्ही कैमरा लगाने हेतु बायलॉज बनाने का अनुमोदन किया गया, जिससे पुलिस को घटना दुर्घटना होने का पता चलेगा. व्यवसायिक प्रतिष्ठानों जहां पर 100 से अधिक लोग होंगे वहां सीसीटीवी कैमरा लगाने होंगे. रैनबसेरा आदि स्थानों पर कैमरा लगाये जायेंगे. इसके साथ ही कई अन्य विकास कार्यों के लिए भी स्वीकृति दी गई.

बस डिपो की भूमि पर बनेगा शॉपिंग कॉम्पलेक्स
नंदा नगर में एमपी.एस.आर.डी.सी. (बस डिपो) की भूमि पर दुकानों के पुनर्वास हेतु शॉपिंग काम्पलेक्स का निर्माण किया जाएगा. यहां अन्य विकास कार्य के लिए 4,95,19,526 रुपए की स्वीकृति दी गई.

महापौर का नया बंगला बनेगा
यशवंत क्लब रोड पर महापौर के मौजूदा बंगले को तोड़कर यहां पर 3.28 करोड़ रुपये की लागत से नया भवन बनाया जाएगा.
बासपास की सर्विस रोड बनाई जाएगी
शहर में प्रथम चरण में इन्दौर बायपास का राऊ सर्कल से मांगलिया तक सर्विस रोड बनाने के लिए 80,52,45,214 रुपए की स्वीकृति दी गई.

305 करोड़ के ग्रीन बाण्ड जारी होंगे
इन्दौर नगर निगम के लिये कैप्टिव उपभोग हेतु जलूद पम्पिंग स्टेशन पर 60 मेगावाट ए.सी./67 डी सी सौर उर्जा के स्थापना हेतु एवं परियोजना के वित्तीय प्रबंधन एवं संसाधन पूर्ति हेतु रुपये 305 करोड़ के ग्रीन बाण्ड जारी करने अथवा वित्तीय संस्थानों से राशि के जुटाने की स्वीकृति दी गई.

मेयर-इन-कौंसिल के अन्य निर्णय
– स्व. उमेश शर्मा के नाम से होगा प्रकाश नगर उद्यान.
– शा. कन्या संयोजितागंज उच्चतर माध्यमिक विघालय का नामकरण स्व. उमेश शर्मा के नाम से होगा.
– दुर्गादास राठौर की प्रतिमा सामने की ओर शिफ्ट की जाएगी.
– मेघदूत उपवन में जनजातिय गौरव पार्क का निर्माण किया जाएगा.
– जगतनारायण जोशी की स्मृति में स्वदेश नगर से वीर भगतसिंह मार्ग के प्रारंभ में द्वार बनाया जाएगा.
– मुख्यमंत्रीजी की घोषणानुसार कुलकर्णी भट्टे का नाम कुलकर्णी नगर करने की स्वीकृति दी गई
– मुख्यमंत्री की घोषणा अनुसार सुश्री लता मंगेशकर की मूर्ति गांधी हॉल परिसर में लगाई जाएगी.
कुलकर्णी भट्टा पुल का नामकरण हरिसिंह नलवा पुल किये जाने की स्वीकृति दी गई.
– शहीद पार्क एवं निगम के सिटी फारेस्ट का नामकरण ‘‘शहीद अमृत विश्नोई‘‘ के नाम से करने की स्वीकृति.

स्वच्छता के लिए खरीदेंगे वाहन
स्वच्छ भारत मिशन अन्तर्गत कचरा संग्रहण हेतु 25 कन्टेनराईज्ड ओपन टिपर के लिए 3,76,20,000 करोड रुपए की स्वीकृति और 60 क्लोज गारबेज टिपर क्रय करने 9,04,80,000 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी गई.
घर-घर कचरा संग्रहण हेतु 60 क्लोज गारबेज टिपर 5.5 क्यूम क्रय करने के लिए 9,99,01,847 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी गई.

नव भारत न्यूज

Next Post

महाराज अग्रसेन की जयन्ती मनी

Tue Sep 27 , 2022
ग्वालियर: अग्रसेन महाराज ने जहां राष्ट्र निर्माण में अपनी महती भूमिका निभाई वहीं पशु बली प्रथा को समाप्त करने में सबसे महती भूमिका निभाई। आज अग्रसेन समाज राष्ट्रहित और राष्ट्र के विकास में निरंतर अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। उक्ताशय के विचार महापौर डॉ शोभा सिकरवार ने महाराज अग्रसेन […]