शिवमय हुई शिव की नगरी

पंडित प्रदीप मिश्रा की कथा में उमड़ा जलसैलाब

मंदसौर: सोमवार को पशुपतिनाथ की नगरीय शिवमय हो गई। सीहोर वाले पं. प्रदीप मिश्रा के मुखारविंद से शिव महापुराण कथा पीजी कॉलेज ग्राउंड में शुरु हुई। इसमें कथा श्रवण करने के लिए करीब दो से ढाई लाख लोग दूर दूर से पहुंचे। समिति द्वारा १ लाख का एक पांडाल और ७५ हजार क्षमता के दो पांडाल बनाए गए है। तीनों ही पांडाल पूरी तरह से भर गए थे। इसके अलावा लोग पांडाल के बाहर भी नजर आए। अनुमान के मुताबिक ढाई लाख से ज्यादा महिलाएं और पुरुष कथा श्रवण करने के लिए पहुंचे।

कथा वाचक पंडित प्रदीप मिश्रा रविवार रात मंदसौर पहुंचे। कथा का श्रवण करने के लिए एक दिन पहले ही दूर दूर से लोग मंदसौर कथा स्थल पर पहुंच गए थे। मंदसौर जिले के अलावा अन्य जगहों से भोजन और बिस्तर लेकर श्रद्धालु पहुंचकर पंडाल में ही अपनी जगह रोककर बैठ गए। इधर कलेक्टर गौतमसिंह और एसपी अनुराग सुजानिया ने भी पं. मिश्रा से सौजन्य भेंट की। अनुमान के मुताबिक एक से डेढ़ लाख लोग कथा का श्रवण करने के लिए कॉलेज ग्राउंड पहुंचे। इधर सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों ने पं. प्रदीप मिश्रा का स्वागत भी किया। कथा स्थल पर प्रवेश व निकासी के लिए समिति ने परिसर के चारों तरफ 9 गेट तैयार किए हैं। ग्राउंड में 3.20 लाख वर्गफीट पंडाल तैयार किया गया है। इसमें 2 लाख व्यक्ति बैठ सकते हैं।
पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी रहे मौजूद
इधर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी पूरी तरह से अलर्ट रहे। हर विभाग को अपनी अपनी जिम्मेदारी यहां सौंपी गई है। स्वास्थ्य विभाग से लेकर हर विभाग के कर्मचारी अपने अपने काम में जुटे रहे। यातायात व्यवस्था बनाए रखने के लिए यातायात पुलिस का अमला भी सुबह से ही पसीना बहाता नजर आया।
ऑटो चालकों ने भी दी सेवा
एक और महत्वपूर्ण बात यह रही कि ऑटो चालकों ने भी अपनी निशुल्क सेवाए दी। एक दर्जन से ज्यादा ऑटो चालकों ने निशुल्क कथा स्थल तक लोगों को पहुंचाया। इसको लेकर पहले ही कुछ ऑटो चालकों ने पोस्ट पहले ही अपनी सेवाएं देने की घोषणा कर दी थी। सात दिनों तक ऑटो चालक अपनी सेवाएं यहां देगे।

नव भारत न्यूज

Next Post

बीजों के नमूने अमानक पाए जाने पर चार फर्मों के विक्रय पंजीयन निरस्त

Tue Sep 27 , 2022
ग्वालियर: बीज परीक्षण प्रयोगशाला की जाँच में विभिन्न फसलों के बीज के नमूने अमानक पाए जाने पर चार फर्मों के बीज विक्रय पंजीयन निरस्त कर दिए गए हैं। अनुज्ञापन अधिकारी बीज एवं उप संचालक किसान कल्याण व कृषि विकास एम के शर्मा द्वारा अलग-अलग आदेश जारी कर इस आशय की […]