हड़ताली कर्मचारियों ने शिविर बंद कराने के बाद की तोडफ़ोड़

कलेक्टर ने दिए एफआईआर दर्ज करने के निर्देश
जबलपुर: बुधवार को एक तरफ जहां सदन की पहली बैठक चल रही थी तो दूसरी तरफ कर्मचारी लामबंद होते हुए हड़ताल पर चले गए। इस दौरान नगर निगम के हड़ताली कर्मचारियों ने नगर निगम द्वारा आयोजित शिविर को बंद करवाते हुए तोडफ़ोड़ कर दी इतना ही वहां मौजूद लोगों के साथ अभद्रता भी की। मामले में कलेक्टर इलैयाराजा टी ने संज्ञान लेते हुए तोडफ़ोड़ करने वाले नगर निगम कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

जानकारी के मुताबिक बुधवार को नगर निगम में कर्मचारी अनिश्चित हड़ताल पर चले गए। कर्मचारियों के द्वारा यह हड़ताल 19 सूत्रीय मांगों को लेकर की जा रही है। कर्मचारियों का आरोप है कि उनकी मांगों पर विचार नहीं किया जा रहा हैं। तानाशाही रवैया अपनाया जा रहा हैं। कर्मचारियों की मांगों को लगातार नजरअंदाज किया जा रहा रहे हैं, जिसको लेकर नगर निगम के समस्त कर्मचारी हड़ताल में चले गए हैं। इस दौरान हड़ताली कर्मचारियों ने तोडफ़ोड़ की।

जब कलेक्टर को शिविर बंद व अस्तव्यस्त मिलने पर संबंधित शिविर प्रभारी से इसकी जानकारी ली, तो उन्होंने बताया कि नगर निगम के हड़ताली कर्मचारियों ने ज़बरदस्ती शिविर बंद कराया,शिविर में तोडफ़ोड़ करने के साथ गालीगलौज भी की। कलेक्टर डॉ इलैयाराजा ने तुरंत ही एसडीएम,पुलिस व संबंधित अधिकारियों को बुलाकर शासकीय कार्य में बाधा डालने वाले हड़ताली कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिये। इस दौरान शिविर में आये हितग्राहियों के आवेदन भी लिए गए।

नव भारत न्यूज

Next Post

मंत्री ने सफाई कर गांवों को स्वच्छ रखने का दिया संदेश

Thu Sep 22 , 2022
मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान के तहत स्वच्छता ही सेवा अभियान मनाया गया इंदौर: मुख्यमंत्री जनसेवा अभियान एवं जनसेवा पखवाड़े के अंतर्गत आज स्वच्छता ही सेवा अभियान आयोजित किया गया. इस अभियान के अंतर्गत जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों ने गांव-गांव पहुंचकर स्वच्छता की अलख जगाई. नागरिकों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया और […]